गुरुवार, 31 जुलाई, 2014 | 12:53 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जनरल दलबीर सिंह सुहाग ने नये सेना प्रमुख के तौर पर पदभार संभाला
 
संगीत सफर में बहुत बदलाव आया है: रहमान
गोपा सी
First Published:05-11-11 11:59 AM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

ए आर रहमान की दिनचर्या अमूमन संगीत से शुरू होकर संगीत पर ही खत्म होती है। पुराने दौर के किसी विशिष्ठ संगीतकार से उनकी कोई तुलना नहीं होती है। वह सिर्फ युवाओं की नब्ज पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं। रॉकस्टार में उनका यह तेवर फिर खुलकर सामने आएगा।

रॉकस्टार के संगीत के बारे में क्या कहेंगे?
अभी इसके गाने बजने शुरू हुए हैं, उम्मीद करता हूं फिल्म की रिलीज के बाद इसके गाने सभी को पसंद आयेंगे। इस फिल्म को लेकर निर्देशक इम्तियाज अली से हुई पहली बातचीत के बाद ही मैं इस फिल्म में संगीत देने के लिए तैयार हो गया था। यह फिल्म सिर्फ एक करेक्टर पर बेस्ड है। 

इसके प्रयोगों के बारे में कुछ बताएं?
मैंने इसमें गिटार का उपयोग कुछ ज्यादा ही किया गया है। यह काफी हद तक एकदम नये-नये बीट्स का इस्तेमाल करके संभव हुआ है। इसमें सूफी और रॉक दोनों का प्रभाव आपको देखने को मिलेगा। और यही इस फिल्म के संगीत का सबसे रोचक पक्ष है।

आपने दो साल पहले सुपरहेवी बैंड बनाया था। कैसा लगा संगीत का यह नया सफर?
हां, 2009 से मैं मिक जैगर, जैस स्टोन, डेमियान मॉरली और जेव स्टुअर्ड के साथ मिलकर सुपरहेवी बैंड के लिए काम कर रहा हूं। पिछले बीस साल से मैं सिर्फ फिल्म, ब्राडवे थियेटर के लिए धुनें बना रहा हूं। और खुद के लिए कुछ शो भी कर रहा हूं। ऐसे में एक बैंड बना कर उसमें की-बोर्ड को मैनेज करना और खुद गाना, वाकई में मेरे संगीत सफर में एक बड़ा बदलाव आ गया है।  

विश्व के इन प्रसिद्घ संगीतकारों के साथ क्या आप पहले भी काम कर चुके हैं?
नहीं, बदकिस्मती से इससे पहले इनके साथ काम करने का कोई मौका नहीं मिला था। कभी यह तय हुआ था कि जेव स्टुयर्ड और मैं मिलकर शेखर कपूर की फिल्म पानी का म्यूजिक तैयार करेंगे। यह फिल्म अब भी शुरुआती दौर में अटकी हुई है। 

अच्छा इस बैंड में सही मायने में आपका क्या योगदान होता है?
मैं इस बैंड के ज्यादातर गानों का एकल पक्ष गाता हूं। हारमोनियम और अतिरिक्त आवाज में भी अपना सहयोग देता हूं। पियानो, सिंथेराइजर, इडियन स्ट्रिंग और पार्शियन स्ट्रिंग जैसे इस्ट्रमेंट्स भी बजाता हूं। 

सुना है कि उन्हें एक संस्कृत का गाना समझाने में आपको कितनी मेहनत करनी पड़ी थी?
जरा भी नहीं, एक बार गाना बजाते ही इसे बनाने में मात्र पंद्रह मिनट का समय लगा था।

आपके इस एलबम के संदर्भ में सुपरहेवी का क्या मतलब है?
शुरू-शुरू में सोचा था कि क्यों सुपरहेवी? यह शब्द सुनते ही एक आत्मप्रशंसित और ओवर द टॉप लगता है। लेकिन गाने सुनने पर लगता है कि हमने यह नाम इस वजह से नहीं रखा है।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°