शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 20:10 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पश्चिम बंगाल के वीरभूम जिले में पुलिस टीम पर हमलाकांग्रेस में बदल सकता है पार्टी अध्‍यक्षचिदंबरम ने कहा, नेतृत्‍व में बदलाव की जरूरत है
शांति प्रक्रिया में शामिल होंगे और संगठन: सोनिया
गुवाहाटी, एजेंसी First Published:26-05-12 03:47 PM
Image Loading

संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार को विश्वास जताया कि वार्ता के लिए अभी तक आगे नहीं आए संगठनों को हिंसा की निर्थकता का अहसास होगा और वे शांति प्रक्रिया में हिस्सा लेंगे।

राज्य में कांग्रेस के लगातार तीसरे कार्यकाल का पहला वर्ष पूरा होने पर आयोजित आधिकारिक समारोह में सोनिया ने कहा कि मैं यह देखकर खुश हूं कि वार्ता के माध्यम से असम में संप्रग और कांग्रेस नीत सरकार का प्रयास सकारात्मक रहा है, क्योंकि अधिकतर संगठनों ने हिंसा छोड़ने की घोषणा करने का निर्णय किया है।

उन्होंने कहा कि अधिकतर उग्रवादी समूहों ने महसूस किया है कि हिंसा से किसी समस्या का समाधान नहीं हो सकता और शांति के लिए इस डगर को छोड़ दिया है। शांति की स्थापना और उनकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सरकार हरसंभव कदम उठाएगी।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आज का दिन पार्टी के लिए उत्सव मनाने का दिन है। उन्होंने कहा कि साथ ही असम के लोगों ने हमें जो महती जिम्मेदारी सौंपी है, उसे हम महसूस करते हैं और उन्हें शांति, विकास और समृद्धि की राह पर ले जाने की प्रतिबद्धता दोहराते हैं।
 
 
 
टिप्पणियाँ