शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 20:47 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    यूपीएससी में बेटियों ने बाजी मारी, दिल्ली की इरा ने टॉप किया, लड़कों में बिहार का सुहर्ष अव्वल इलाहाबाद जंक्शन पर पटरी से उतरी मालगाड़ी, परिचालन ठप मुजफ्फरनगर: सड़क हादसे में दो बच्चों की मौत के बाद जमकर हुआ बवाल झारखंड: पटरी से उतरी मालगाड़ी, दो मरे, चार ट्रेनें रद्द अनूप चावला की हालत बिगड़ी, एयर एंबुलेंस से भेजा मेदांता अनंत विक्रम सिंह गिरफ्तार, अमेठी में भारी पुलिसबल तैनात आतंकी भटकल ने जेल से किया पत्नी को फोन, बताई गुप्त योजना, मचा हडकंप माफिया डॉन दाउद इब्राहिम ने लंदन में रामजेठमलानी को किया था फोन, सरेंडर करने की बात कही थी हेमा मालिनी को मिली अस्पताल से छुटटी, बेटी ईशा के साथ पहुंचीं मुंबई अब विश्वविद्यालयों में कोर्स का दस फीसदी ऑनलाइन पढ़ सकेंगे छात्र
भारत की जीत में बद्रीनाथ चमके
पोर्ट ऑफ स्पेन, एजेंसी First Published:04-06-11 09:30 PMLast Updated:04-06-11 10:56 PM
Image Loading

एस बद्रीनाथ की जुझारू पारी के बाद गेंदबाजों के ठोस प्रदर्शन की बदौलत भारत ने एकमात्र टवेंटी20 क्रिकेट मैच में शनिवार को वेस्टइंडीज को 16 रन से हराया।

भारत ने बद्रीनाथ की 43 रन की पारी की मदद से छह विकेट पर 159 रन का स्कोर खड़ा किया था जिसके जवाब में वेस्टइंडीज की टीम पांच विकेट पर 143 रन ही बना की। भारत ने कैरेबियाई टीम के खिलाफ टवेंटी20 में पहली जीत दर्ज की। बद्रीनाथ ने रोहित शर्मा (26) के साथ पांचवें विकेट के लिए नौ ओवर में 71 रन जोड़कर टीम को मुश्किल हालात से उबारते हुए मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। भारत की तरफ से हरभजन सिंह ने 25 रन देकर दो विकेट चटकाए।

वेस्टइंडीज की ओर से डेरेन ब्रावो ने सर्वाधिक 41 रन बनाए। क्रिस्टोफर बार्नवेल ने सिर्फ 16 गेंद में दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 34 रन की पारी खेली लेकिन यह टीम को जीत दिलाने के लिए नाकाफी था।

भारत को इससे पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ दोनों टी20 मैचों में शिकस्त झेलनी पड़ी थी। इस टीम ने टी20 विश्व चैम्पियनशिप 2009 में लार्ड्स पर भारत को सात विकेट से हराया। इसके बाद टी20 विश्व कप में ही केनसिंग्टन ओवल पर भी वेस्टइंडीज ने 14 रन से जीत दर्ज की।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्टइंडीज ने 22 रन के स्कोर तक ही दोनों सल्लेबाजी बल्लेबाजों आंद्रे फ्लेचर (11) और लेंडल सिमन्स (9) के विकेट गंवा दिए। आर अश्विन की गेंद पर भारत को अंपायर के खराब फैसले पर पहली सफलता मिली। अश्विन की अंदर आती गेंद पर सिमन्स का कैच पहली स्लिप में खड़े विराट कोहली ने लपका। टीवी रीप्ले में हालांकि दिख रहा था कि गेंद ने सिमन्स के बल्ले को नहीं छुआ जबकि गेंद विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हेलमेट से भी टकराई।

इससे पहले बद्रीनाथ (43) और रोहित शर्मा (26) ने भारत को मुश्किल हालात से उबारते हुए पांचवें विकेट के लिए नौ ओवर में 71 रन जोड़कर टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। यूसुफ पठान (छह गेंद में नाबाद 15, दो छक्के) और हरभजन सिंह (सात गेंद में नाबाद 15, चौका और एक छक्का) ने भी अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की।

टॉस हार बल्लेबाजी करने उतरे भारतीय बल्लेबाजों को क्वीन्स पार्क ओवल की धीमी पिच पर बल्लेबाजी में दिक्कत हुई। सैमी ने पारी के तीसरे ओवर में ही सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (5) को विकेटकीपर आंद्रे फ्लेचर के हाथों कैच करा दिया।

ओपनर पार्थिव पटेल (26) ने चौथे ओवर में रवि रामपाल पर पारी का पहला चौका जड़ा। उन्होंने अगले ओवर में सैमी की गेंद को चार रन के लिए भेजने के बाद आंद्रे रसेल की गेंद पर मिडविकेट के ऊपर से छक्का जड़ा।

सैमी ने अगले ओवर में विराट कोहली (14) और पार्थिव को लगातार गेंदों पर पवेलियन भेजकर भारत को दोहरा झटका दिया। कोहली सैमी की धीमी गेंद को ड्राइव करने की कोशिश में प्वाइंट पर डेंजा हयात को कैच दे बैठे जबकि अगली आफ कटर गेंद पर पार्थिव ने मार्लन सैमुअल्स को कैच थमाया।

आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले भारतीय कप्तान सुरेश रैना (2) भी इसके बाद सैमी की गेंद को उठाकर मारने की कोशिश में मिडविकेट पर क्रिस्टोफर बार्नवेल को बेहद आसान कैच दे बैठे। इस समय भारत का स्कोर चार विकेट पर 56 रन था।

बद्रीनाथ और रोहित ने इसके बाद पारी को संवारा लेकिन दोनों ही बल्लेबाजों ने शुरू में काफी धीमी बल्लेबाजी की। बद्रीनाथ ने ऑफ स्पिनर एशले नर्से की गेंद पर चार रन के साथ अपने हाथ खोलने की कोशिश की। उन्होंने इसके बाद रामपाल की गेंद पर फ्री हिट पर चौका जड़ा जबकि रोहित से इसी ओवर में सीधा छक्का मारा और 16वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया।

बद्रीनाथ ने देवेंद्र बीशू के ओवर में भी दो चौके मारे। रोहित ने अगले ओवर में बार्नवेल की गेंद को भी दर्शकों के बीच भेजा लेकिन वह अगली ही गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 23 गेंद की अपनी पारी में दो छक्के मारे। पठान ने भी बार्नवेल की गेंद पर छक्का जड़ा लेकिन बीशू ने अगले ओवर की पहली गेंद पर बद्रीनाथ को विकेटकीपर फ्लेचर के हाथों कैच करा दिया। बद्रीनाथ ने 37 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके मारे।

पठान ने बीशू की गेंद पर पारी का अपना दूसरा छक्का जड़ा जबकि हरभजन ने अंतिम ओवर में रामपाल पर छक्का और फिर चौका मारा। भारतीय बल्लेबाजों ने अंतिम पांच ओवर में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 72 रन जोड़े।

 

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingमैकलम ने खेली 158 रन की रिकॉर्ड पारी
न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकलम ने इंग्लिश ट्वेंटी 20 ब्लास्ट प्रतियोगिता में अपनी काउंटी टीम वॉरविकशायर के लिए मात्र 64 गेंदों में नाबाद 158 रन का ताबड़तोड़ स्कोर बनाने के साथ एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड